Posts in Stuff

Self help question

Hi all these are few questions I’m asking to you please answer to these all question that’s kind of a conversation between you and me

1. Name

Ans. Nikhat Parveen

2
School/collage/university

Ans. St. Anthony’s Girls sr. Sec school

3
Your age ?

Ans. 16

4
What you do for survival ?

Ans. For Survival , basically i think everybody has their Own ways . I just try to be happy in what i always had in a moment.

5
Do you like traveling ??

Ans. Yes

6
What inspire you most in your life ??

Ans. Music inspires me alot.

7
What you wanna be in your life ??

Ans. Singer

8
Am I who I want to be ?

Ans. I guess I Am. And i Can.

9
What are you so afraid of ?

Ans. Losing my love ones .

10
What would you be doing if you had six month to live ?

Ans. If I’ll be have only six months left ,then most probably i would prefer to travel to my dream destination and say thank you personally to every single person who made me smile and happy and confident even for a single second.

11
What do you hate ?

Ans. People with low self esteem and self belief.

12
Are you using your strength ?

Ans. I’m not an adult yet .but i AM using my strength in every possible way I’m capable of.

13
What will happen if you continue to live this way ?

Ans. I’ll not mind. I love what i have now . I know how to cherish every moment and make feel others loved .

14
When is the last time you’ve gone outside of your comfort zone ?

Ans. I’m am an ambivert. Couple of months back i joined some chatrooms of kpop fandom , it was at that time was little hard for me to get along well but i tried and made many good friends.

15
Is your health helping or harming your purpose in your life ?

Ans. Yes i guess. It’s harming me .

16
Are you moving in the right direction to achieve success in your life

Ans. I don’t know what I’m doing will take me to the right direction or not but I’m that much sure that whatever NOW I’m doing is making me day by day love ME more.

17
What do you do for fun ?

Ans. I Read Fictions .

18
How much do you worry about what others think ?

Ans. To be honest, i used to think and worry A LOT .But now i ignore them like it never exists .

19
What have been your biggest mistakes ?

Ans. To let someone make me fool though i was aware that the person is a fault.

20
Your favourite place ?

Ans. South Korea

21
Your favourite food ?

Ans . Anything ,but it should be spicy.

22
Your achievements in life ??

Ans. Though I’m only 16 but i presented my school in an art zonal competition when i was in 6th grade and won the 1 place.  My Poem is about to publish in an anthology book. Unicef korea follows me at my Instagram as I’m a regular viewer there. I’m a freelance writer at Hallyuism_india . I Earn. I give tutions and manage to pay for my own stuff when required.

23
Where you wanna see yourself after 10 year ?

Ans. As a strong and Highkey version of my dad.

24
What you think of life ?

Ans. I think it’s an opportunity given to us to explore and discover new things daily and learn from them.

25
Do you believe in religion ??
Yes/no

Ans . No.

26
Who is your role model ??

Ans. BTS

27
What changes you wanna see in life ??

Ans. I want to give my father everything he is sacrificing right now just to make us feel safe and exquisite.

28
Are you happy with life ??
Yes/No

Ans. Yes

29
How you keep yourself happy

Ans. I love listening music. It is my power pill.

30
What you want to achieve in your life ?

Ans. I want to achieve my Father’s proud gesture towards me. I want to make him feel that his parenting didn’t went wrong.

31
What is your weekness ?

Ans. My Father

32
What’s your strength ?

My Father and my self confidence.

33
What makes you worried in your life ?

Ans. I always gets worried whatif i loose my precious ones whom i adore in my existence.

34
Whats your philosophy in life ?

Ans. My philosophy is , If a thing gives you happiness for even a second then that thing is GOOD for you.

35
What’s the one thing you would like to change about yourself

Ans. Sensitive persona

36
Are you religious or spiritual ??

Ans. Not really.

37
Do you consider yourself on introvert or extrovert ??

Ans. I consider myself as an AMBIVERT.

38
What was the best phase in your life ?

Ans. When i realised that i can do things which i can not even imagine and which are beyond of my capabilities.

39
What was the worst phase in your life ?

Ans. When i lost my mom at the age of 12.

40
What’s your favourite book/movie of all time and why did it speak to you so much ?

Ans. My Favourite Book is *SUBTLE ART OF NOT GIVING A FUCK* BY MARK MANSON. it really made me realized that what type of persona i have. And what are the things I’m lacking in by worrying for an unnecessary things.

41
Are you more into looks or brain ??

Ans. Brain . Especially people with IQ around 148.

42
How do you feel about sharing your password with your partner ?

Ans. I’m only 16 , Oopsie no partner .

43
When do you think a person is ready for marriage

And. I guess . The person is ready for marriage when he/she knows their own worth and thier capabilities and potential to carry on the future  relationship .

44
What kind of parents do you think you will be ?

Ans. A kind of therapist maybe 😉

45
Have you ever lost someone close to you ?

And . Yes , My mom.

46
What’s an ideal weekend for you ?

Ans. Spotify on , Coffee on one hand and book on another with dim lights and Rainy scenario.

47
Do you judge a book by it’s cover ??

Ans. No

48
Do you believe in second chance ?

And. I do.

49
What are you most thankful for ?

Ans. That I’m breathing at this very moment.

50
What’s the one thing that people always misunderstand you ?

Ans. That she must be not knowing about the happenings Occuring in the world. In a simple text , unaware of outside world.

51
What did you past relationship teach you ?

Ans. Didn’t had in a relationship.

52
If a genie granted you 3 wishes right now, what would you wish for ?

Ans. I want my mom back , i want to meet my ideals whom I’m inspired from, happiness for my friends .

53
What’s your biggest regret in life ?

Ans. I let a person fool me.

54
What do you think you are still single ?

Ans. I guess people right now prefer fun rather then having conversation about real issues . It is not like i don’t Fun around but when it’s not i prefer Not.

55
What are three things you value most about a person ?

Ans. Not Judgemental at first sight ,Brain ,and how he/ she treats people.

56
What is the greatest struggle you’ve overcome ?

Ans. Covid-19

57
Who was your favourite teacher and why ?

Ans. There is one tutor of mine UK , i call her UK . She is the very first person who made me think that i CAN come out from my comfort zone. She basically moulded me into a mature person.

58
What is weirdest things about you ?

Ans. I’m Sensitive and clumsy.

59
What food could you not live without ?

Ans. Chicken made by my father.

60
What your best birthday ??

Ans. Last year when i prefered my birthday celebration outdoor.

61
When was the last time you told yourself that “I LOVE MYSELF”

Ans. Few hours ago. Haha, As my ideals are BTS how can i forget to say I love myself.

In last say few words for Me .

I don’t know you yet. But seems a nice and genuine person. Must be of good persona.

Thanks

सवाल ओर जवाब

Hi all these are few questions I’m asking to you please answer to these all question that’s kind of a conversation between you and me

1. Name
नाम

Ans. Arif Ali

2
School/collage/university
स्कूल / महाविद्यालय / विश्वविद्यालय

Ans. Satyawati College

3
Your age ?
आपकी उम्र

Ans. 18 years

4
What you do for survival ?
अस्तित्व के लिए आप क्या करते हैं?

Ans. Still I depend on my family

5
Do you like traveling ??
क्या आप घूमना पसंद करते है ?

Ans. Yes

6
What inspire you most in your life ??
आपको अपने जीवन में सबसे ज्यादा क्या प्रेरणा देता है ??

Ans. The indoctrinations of being a ” CIVIL SERVANT “

7
What you wanna be in your life ??
आप अपने जीवन में क्या बनना चाहते हैं ??

Ans. A permissive human

8
Am I who I want to be ?
क्या मैं वह बनना चाहता हूं जो मैं बनना चाहता हूं?

Ans. Yeah

9
What are you so afraid of ?
आपको किस बात का इतना भय है ?

Ans. I do not have any fear of any thing

10
What would you be doing if you had six month to live ?
अगर आपके पास रहने के लिए छह महीने हैं तो आप क्या कर रहे होंगे?

Ans. I would be spending my those time with my family

11
What do you hate ?
आप किससे घृणा करते हैं ?

Ans. Verily I hate untrue

12
Are you using your strength ?
क्या आप अपनी ताकत का इस्तेमाल कर रहे हैं?

Ans. I use my strength according to my needs

13
What will happen if you continue to live this way ?
अगर आप इसी तरह से जीते रहेंगे तो क्या होगा?

Ans. That depends on my present activities.  Future can be expected not predicted

14
When is the last time you’ve gone outside of your comfort zone ?
आखिरी बार आप अपने कम्फर्ट जोन से बाहर कब गए हैं?

Ans. Today

15
Is your health helping or harming your purpose in your life ?
क्या आपका स्वास्थ्य आपके जीवन में आपके उद्देश्य की सहायता या हानि कर रहा है?

Ans. It’s helpful

16
Are you moving in the right direction to achieve success in your life
क्या आप अपने जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं

Ans. Yes

17
What do you do for fun ?
आप मस्ती के लिए क्या करते हो ?

Ans. Spend my some time with my friends

18
How much do you worry about what others think ?
आप इस बारे में कितना चिंतित हैं कि दूसरे क्या सोचते हैं?

Ans. In present 0%

19
What have been your biggest mistakes ?
आपकी सबसे बड़ी गलतियाँ क्या रही हैं?

Ans. Procrastination of my works

20
Your favourite place ?
आपकी पसंदीदा जगह कौनसी है ?

Ans. Library

21
Your favourite food ?
आपका पसंदीदा खाना क्या है

Ans. Whatever is cocked by my beloved mother

22
Your achievements in life ??
जीवन में आपकी उपलब्धियाँ ?

Ans. I have consience

23
Where you wanna see yourself after 10 year ?

Ans. In a district of any state of Indian as an IAS officer

24
What you think of life ?
आप जिंदगी के बारे में क्या सोचते है ?

Ans. The best teacher forever

25
Do you believe in religion ??
Yes/no
क्या आप धर्म में विश्वास रखते है ?

Ans. Yes 100%

26
Who is your role model ??
आपका रोल मॉडल कौन है ??

Ans. Prophet Muhammad ﷺ

27
What changes you wanna see in life ??
आप जीवन में क्या बदलाव देखना चाहते हैं ?

Ans. Unbounded love amongst the people of the world

28
Are you happy with life ??
Yes/No
क्या आप जिंदगी के साथ खुश है ?

Ans. Yeah

29
How you keep yourself happy
खुद को खुश रखने के लिए आप क्या करते है ??

Ans. Study because I am addicted to this

30
What you want to achieve in your life ?
आप क्या achieve करना चाहते है जिंदगी में ??

Ans. The Achievement of salvation when my family and every individual will be happy

31
What is your weekness ?
आपकी कमजोरी क्या है ???

Ans. My wrath

32
What’s your strength ?
आपकी ताकत क्या है ?

Ans. My knowledge

33
What makes you worried in your life
आप किस चीज या बात से डरते है

Ans. My wrath

34
Whats your philosophy in life ?
जीवन में आपका दर्शन क्या है?

Ans. Spreading love amongst the people around me

35
What’s the one thing you would like to change about yourself
वह कौन सी चीज है जिसे आप अपने बारे में बदलना चाहेंगे

Ans. Some of my bad habits

36
Are you religious or spiritual ??
क्या आप धार्मिक या आध्यात्मिक हैं ??

Ans. I enjoy both

37
Do you consider yourself on introvert or extrovert ??
क्या आप खुद को अंतर्मुखी या बहिर्मुखी मानते हैं ??

Ans. No thought on this

38
What was the best phase in your life ?
आपके जीवन में सबसे अच्छा चरण क्या था?

Ans. When I was in school life especially in 12th class . Wow that was such a phase I ever experienced

39
What was the worst phase in your life ?
आपके जीवन का सबसे बुरा दौर क्या था?

Ans. When I realized that now I have some responsibilities but after some time I adapted myself according to these because without responsibility a body is a dead soul

40
What’s your favourite book/movie of all time and why did it speak to you so much ?
आपकी सभी समय की पसंदीदा पुस्तक / फिल्म क्या है और इसने आपसे इतनी बात क्यों की?

Ans. So far I have not any favourite book/ movie

41
Are you more into looks or brain ??
क्या आप लुक या ब्रेन में अधिक हैं?

Ans. I am nominal in both as I love

42
How do you feel about sharing your password with your partner ?
आप अपने साथी के साथ अपना पासवर्ड साझा करने के बारे में कैसा महसूस करते हैं?

Ans. If faithful then there must be not problem in sharing password

43
When do you think a person is ready for marriage
आपको कब लगता है कि कोई व्यक्ति शादी के लिए तैयार है

Ans. No idea

44
What kind of parents do you think you will be ?
आपको लगता है कि आप किस तरह के माता-पिता होंगे?

Ans. Both strict and liberal

45
Have you ever lost someone close to you ?
क्या आपने कभी अपने किसी करीबी को खोया है?

Ans. Yeah

46
What’s an ideal weekend for you ?
आपके लिए एक आदर्श सप्ताहांत क्या है?

Ans. No idea

47
Do you judge a book by it’s cover ??
क्या आप इसे कवर द्वारा एक पुस्तक का न्याय करते हैं ??

Ans. No , Because this is against the humanity

48
Do you believe in second chance ?
क्या आप दूसरे मौके पर विश्वास करते हैं?

Ans. Yeah

49
What are you most thankful for ?
आप किसके लिए सबसे आभारी हैं?

Ans. Allah

50
What’s the one thing that people always misunderstand you ?
एक बात क्या है जो लोग हमेशा आपको गलत समझते हैं?

Ans. I do not hesitate when it comes to justice on the bedrock of truth

51
What did you past relationship teach you ?
पिछले रिश्ते ने आपको क्या सिखाया?

Ans. Hitherto I have not undergone any past relationship

52
If a genie granted you 3 wishes right now, what would you wish for ?
अगर किसी जिन्न ने आपको अभी 3 इच्छाएं दी हैं, तो आप क्या चाहते हैं?

Ans. a. A peaceful world alongwith my family ,
b. Everyone achieve to their licit aim , and
c. Longer life for my teachers Especially Mithilesh Yadav

53
What’s your biggest regret in life ?
जीवन में आपका सबसे बड़ा पछतावा क्या है?

Ans. I have done some wrong things which is against my religion and also that is against the spirituality

54
What do you think you are still single ?
आपको क्या लगता है कि आप अभी भी सिंगल हैं?

Ans. No , in an open relationship with UPSC for IAS

55
What are three things you value most about a person ?
किसी व्यक्ति के बारे में आप किन तीन चीजों को महत्व देते हैं?

Ans. 1. Their adaption towards their responsibilities ,
2. A good humour , and
3. Their view towards their spirituality or religion

56
What is the greatest struggle you’ve overcome ?
आपके द्वारा सबसे बड़ा संघर्ष क्या है?

Ans. Always faced every problem and tackled

57
Who was your favourite teacher and why ?
आपका पसंदीदा शिक्षक कौन था और क्यों?

Ans. Mithilesh Yadav and he is still my favourite teacher forever . He taught me how to be a good person in each an every field you will . There are so many things but let’s talk later about those .

58
What is weirdest things about you ?
आपके बारे में अजीब बातें क्या है?

Ans. I am what I want always

59
What food could you not live without ?
आप किस भोजन के बिना नहीं रह सकते थे?

Ans. I am not addicted of anything ( food )

60
What your best birthday ??
आपका सबसे अच्छा जन्मदिन क्या ??

Ans. 04/12/2018

61
When was the last time you told yourself that “I LOVE MYSELF”
जब आखिरी बार आपने खुद से कहा था कि “I LOVE MYSELF”

Ans. Every single day when I conquer my target

In last say few words for Me

Ans. You have a uniqueness that is always looking for something new that enhances your knowledge and so many things .

Thanks
Rohit Shabd

Answered by ARIF ALI .

घूमने के फायदे

घूमने के फायदे

घूमने के फायदे 

घूमने का अर्थ है एक जगह से दूसरी जगह जाना यह साधारण भाषा में हम इसे स्थानांतरण भी कह सकते हैं। कभी-कभी तो बीमार व्यक्तियों के चिकित्सा के लिए भी चिकित्सक उनको स्थान परिवर्तन की सलाह देते हैं।

  एक जगह पर रहते रहते हम उस स्थान के आदी हो जाते हैं। स्थान बदलने पर जलवायु बदलती है, हवा बदलती है, पानी बदलता है।
 
  यह तो हुई मौसम की बात इससे अलावा हमें अलग-अलग जगह जाने से अलग-अलग जगह के रीति रिवाज तौर-तरीकों को जानने का मौका मिलता है।
 
ज्ञान केवल हमें किताबों से ही नहीं मिलता बल्कि हम जितने ज्यादा लोगों में बैठते हैं जितने ज्यादा लोगों से मिलते हैं उतना ही हमें ज्ञान मिलता है।
जितनी ज्यादा लोगों से हमारा मेलजोल होता है इतना ज्यादा ही हम दुनिया के तौर-तरीकों को आसानी से सीख पाते हैं।      
                    
    यह उसी प्रकार सत्य है जिस प्रकार के एक भरे पूरे परिवार में एक बच्चा बहुत जल्दी बोलना सीख जाता है वह सभी क्रियाकलापों को बहुत जल्दी सीख जाता है। मैं कुछ ऐसे लोगों को जानता हूं जो कि हिंदुस्तान में कई राज्यों में घूमे हैं और बिना किसी विशिष्ट ज्ञान के उन्हें भारत की कई अलग-अलग भाषाओं का ज्ञान भी है और साथ में वहां की परंपराओं को आसानी से समझ पाते है। दुनिया में अलग-अलग जगह जाने पर आपको अलग-अलग जगह के व्यंजनों का पता चलता है। अलग-अलग जगह के रीति-रिवाजों का ज्ञान होता है अलग-अलग जगह के लोगों की सोच का पता चलता है। अगर आप अपने जन्म से लेकर मृत्यु तक केवल एक ही जगह रहते हैं तो आपको कभी भी बाहर के समाज का ज्ञान नहीं हो सकता आप केवल कुएं के मेंढक की तरह बने रहेंगे।
   
आज के समय में बच्चों का यही तो हाल है कि वह घर से बाहर निकलना नहीं चाहते।
सभी का मन यही करता है कि सबकुछ घर बैठे-बैठे ही मिल जाए और तो और खेल खेलने के लिए भी कोई बच्चा बाहर नहीं जाना चाहता।
मोबाइल में या वीडियो गेम पर सारे खेल उपलब्ध है इससे उनका शारीरिक विकास भी रुक जाता है।     
 
हमने कई ऐसे महापुरुषों के बारे में पढ़ा है जिन्होंने पूरी दुनिया में भ्रमण करके पूरी दुनिया का ज्ञानार्जन किया। उसमें सबसे ऊपर तो नाम गुरु नानक देव जी का ही है जिन्होंने पैदल ही पूरी दुनिया की यात्रा की। जितना ज्यादा आप एक जगह से दूसरी जगह पर जाओगे आपको उतने ही ज्यादा समाज के बारे में जानकारी प्राप्त होगी।   
 
एक पुरानी कहावत भी है कि
             
“कोस कोस पर बदले पानी और 5 कोस पर बदले वाणी”।   
                              
       अर्थात हमारे देश में इतनी विविधता है कि हर थोड़ी ही दूर चलने पर पानी में विविधता जाती है और और थोड़ी दूर चलने पर लोगों की वाणी में विविधता जाती है अर्थात लोगों की बोली में अंतर आ जाता है।

Written by Pritam Mundotiya

भारतीय शिक्षा प्रणाली

भारतीय शिक्षा प्रणाली

भारत में शिक्षा सरकारी व निजी दोनों तरीके से दी जाती है। भारतीय संविधान के अनुसार 6 से 14 वर्ष की आयु तक के बच्चों को शिक्षा शिक्षा प्राप्त करना उनके मूल अधिकारों में शामिल किया गया है। यह नीति 1 अप्रैल 2010 से लागू की गई थी।    
 
           इसके बाद भारत की प्राथमिक शिक्षा में काफी बढ़ोतरी हुई, 7 से 10 साल तक की बच्चों में लगभग तीन चौथाई जनसंख्या आज शिक्षित है। इसके अलावा भारत में अपनी उच्च शिक्षा प्रणाली में भी कई सुधार किए हैं जो कि आर्थिक सुधारों के अंतर्गत आते हैं। उच्च शिक्षा में अधिकतम सुधार विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में की गई हैं। 2013 में उच्च शिक्षा में जनसंख्या का 24% शामिल था।        
  प्राथमिक और माध्यमिक स्तर पर भारत में निजी शिक्षा क्षेत्र भी 6 से 14 वर्ष की आयु के 29% छात्रों को शिक्षित करने में लगा है। वार्षिक शिक्षा सर्वे 2012 के अनुसार 96% ग्रामीण क्षेत्रों के 6 से 14 आयु के बच्चे भी शिक्षा प्राप्ति की ओर अग्रसर है। एक और सर्वे जो कि 2013 में शुरू किया गया था उसके अनुसार 229 मिलियन छात्र भारत के ग्रामीण और शहरी इलाकों से कक्षा शिक्षा क्षेत्र में संलग्न है।  
                     
  जनवरी 2019  तक भारत में 900 विश्वविद्यालय और 40000 कॉलेजों की स्थापना हो चुकी थी। भारत की उच्च शिक्षा प्रणाली में काफी संख्या अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति अथवा कुछ पिछड़े वर्ग के छात्रों के लिए भी आरक्षित की गई है।     
            

भारतीय शिक्षा का इतिहास:         
भारत में शिक्षा प्रणाली का इतिहास बहुत पुराना है।भारत के इतिहास में हमें तक्षशिला विश्वविद्यालय के बारे में पता लगता है जो कि आठवीं शताब्दी ईसा पूर्व में स्थापित किया गया था। इसके अलावा हमें नालंदा विश्वविद्यालय के बारे में भी इतिहास में जानकारी मिलती है जो कि पूर्वी भारत में स्थित था। इसके साथ ही यह दुनिया की प्राचीनतम शिक्षा व्यवस्था का विश्वविद्यालय था ऐसी जानकारी मिलती है। यहां सभी विषय पाली भाषा में पढ़ाए जाते थे। वह पूरी दुनिया में विख्यात आचार्य चाणक्य भी यही के एक अध्यापक थे जिनका की मौर्य साम्राज्य के बसने में एक महत्वपूर्ण योगदान था। 
  
   आधुनिक शिक्षा प्रणाली: 
भारत में अधिकतर शिक्षा बोर्ड 10 + 2 प्रणाली पर शिक्षा देते हैं। इस प्रणाली में 12 साल तक विद्यार्थी विद्यालय में शिक्षा प्राप्त करने के बाद 3 साल वह विश्वविद्यालय में शिक्षा ग्रहण करता है।  
             
आज जो हम भारत की शिक्षा प्रणाली को देखते हैं । वह कई चरणों से होकर गुजरी है। प्राचीन काल में भारत में गुरुकुल में शिक्षा दी जाती थी, जहां की एक विद्यार्थी अपने गुरु के सानिध्य में एक निश्चित अवधि तक घर से दूर रह कर के शिक्षा प्राप्त करता था।       परंतु सन 1835 में राजा राममोहन राय की सहायता से लॉर्ड विलियम बेंटिक ने आधुनिक शिक्षा प्रणाली को लागू किया वे उस का माध्यम अंग्रेजी रखा। इसी शिक्षा प्रणाली को लॉर्ड मैकाले शिक्षा पद्धति भी कहा जाता है, क्योंकि विलियम बेंटिक है यह कार्य लॉर्ड मेकाले की सहायता से किया था।

समय दीजिए

समय

ना जाने किसको आपकी जरूरत है अपने आसपास थोड़ा गौर कीजिए क्या पता आपके कुछ मिनट किसी को एक नई जिंदगी की ओर ले जा सके।

आज जो समय चल रहा है वह बेहद ही तनाव से भरा हुआ है इसलिए स्वयं पर और अपने साथ रहने वालो का ध्यान रखिए।

इस संसार में ऐसी कोई समस्या नहीं है जिसका निवारण नहीं हो सकता थोड़ा विलंब अवश्य हो सकता है परन्तु निवारण जरूर होगा इसलिए सब्र रखना जरूरी है।

हम सभी को स्तब्ध कर दिया है सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु ने यह एक गंभीर बात है जो एक कलाकार हमारे लिए छोड़ गए जिन पर हमें ध्यान देना है हम नहीं जानते उन्होंने ऐसा क्यों किया ?

परंतु यह एक सवाल जो अपने पीछे छोड़ गए वो बेहद गंभीर है ऐसा क्यों ? उनके साथ ऐसा क्या हुआ जिस वजह से उन्होंने यह कदम उठाया

मामा जी की प्यारी छत

छत के वो दृश्य मनमोहक वो किस्से
कुछ पुरानी यादे और कुछ पुरानी बाते
जो बिना मोबाइल, ओर कैमरे के अब भी कैद है
हमारी आंखों में हम संजोए वो दिन

आजकल तो बच्चे कैद कर लेते है
हर उस बात को अपने मोबाइल में
लेकिन हम कुछ भी कैद नही कर पाए
उस कैमरे में

क्योंकि
वो कैमरे वाला टाइम नही था
मोबाइल नही थे बस जो कैद हुआ
वो सब हमारी आंखों में चित्रित है

हमारी यादों में अब भी सजे हुए है
  वैसे के वैसे ही अब तक रखे हुए है
 
  वो सारे चित्र
एक एक पल अब भी हमारे जहन मैं उसी तरह से है
जैसे   हमने उस पल को जीया बेहद हो ओर फिर याद करके एक बार ओर जी रहे है

  आज वो यादे है छत की
  हमारे प्यारे मामा जी की छत
  जिस पर हम घंटो खेला कूदा करते थे
  लड़ते झगड़ते ( लड़ते झगड़ते तो शायद कभी थे नही हम , बस खूब मस्ती हम किया करते थे )

और भी बहुत कुछ बचपन में
मामा जी की वो प्यारी छत
जिसको भूल मैं अब तक भी ना पाया
आज 6 साल बाद छत आकर याद ताज़ा कर लाया

वो छत जिस पर गए हुए लगभग 6 साल बीत गए है
मामा जी की वो प्यारी छत ही है जिस पर हम कल फिर से गए

जिस छत पर हम पूरा दिन बिता दिया करते थे।

छत पर जाते ही मेरे दिमाग में
छपे हुए चित्र फिर से ताज़ा हो गए

आसपास के सारे मकान आज और बड़े गए
जो खाली थे घर , वो घर भी आज भर गए थे

वो आसपास के बच्चे भी अब और बड़े हो गए थे
बात मानो कल ही की हो जब हम घंटो छत पर खेला करते थे। थक हार कर कुछ देर हम सोया करते थे भरी दोपहरी में भी बस हम छत पर ही होया हम करते थे।

वो बारिश के दिन अब भी याद है  बारिश में हम नहा लिया करते थे बारिश से चौक गिला ना हो जाए वो जाल पर मोमजामा बिछाकर  इटो से ढक दिया करते थे

( और जब बारिश के दिन हुआ करते थे तब जाली पर
मोमजामा ढक उस पर ईंट हम रखा करते थे)

वो छत बड़ी प्यारी है उस छत से जुड़ी है
हम सबकी यादे बहुत सारी है।

रात को घर की लाइट जाने पर छत पर ही हम सो जाया करते थे
ओर सुबह  सूरज में चढ़ती धूप जब तक तेज़ ना हो जाए तब तक उठ कर हम नीचे नही आया करते थे।

जब छत पर हम सोते थे हमे सोने के लिए खाट मिला करती थी अब तो वो छत के साथ साथ खाट भी कही खो गयी है

रात को जब छत पर जाते थे सोने तब लेट कर हम बस तारे गिना करते थे जितने बाल उतने तारे इस बात बोलकर बात पूरी कर दिया करते थे

हम तारे गिनते तो कभी सप्तऋषि , तो कभी कुछ और हम बस ढूंढ करते थे पूरी रात तारो में बीत जाए ऐसी कोशिश हम किया करता थे कभी कभी तो ध्रुव तारा देखने की कोशिश में पूरी रात जगा करते थे।

सुबह से लेकर शाम तक छत पर ही दिन बीत जाता था,
ना हम नीचे आते थे ओर ना ही कही घूमने हम जाते थे

मुड खराब

यह जो मूड है ना खराब हो जाता है
कभी कभी जो यह मूड है

कभी कभी जो यह मूड है खराब हो जाता है
अजी बिल्कुल खराब हो जाता है
जी बिल्कुल
बिल्कुल मन यू मेला कुचैला फिर
काहे खुद को तू संत बताये
चित में इतने गहरे राज छिपाए
कौन कौन कर्म कांड कियो
अब साधुपन दुनिया को दिखलाए 
बिल्कुल खराब हो जाता है
अजी मूड खराब हो जाता है।

सुबह उठते ही जब खुद का चेहरा नजर आता है
बाल उड़े नजर आते है दिमाग बेहाल हो जाता है
अजी मेरा मूड जो है खराब हो जाता है
टॉयलेट जाने का जब नंबर आता है
पानी खत्म हो जाता है

नल में पानी नही आता है
दूर से उठाकर ( धोकर ) लाना पड़ता है
अजी थक जाता हूं
पसीना बहता हूं साला इसलिए
तो मूड मेरा खराब हो जाता है
अजी मुड़ खराब हो जाता है

एक बाल्टी से ही नहाना धोना पड़ता है
अजी मूड खराब हो जाता है
नल का पानी गंदा आता है , वो भी
24 घंटे में सिर्फ 1 घंटे आता है
अजी मूड मेरा तो बस खराब हो जाता है

जैसे तैसा तैयार हो पाता हूं
घर से बाहर मैं निकल पाता हूं
कुछ दूर चलते ही सामने आफत हजार पाता हूं
उनको देखकर फिर मेरा
मूड खराब हो जाता है ,
कोई सिगरेट पिता हुआ
नजर आता है तो कोई गुटखा थूकता हुआ
कोई इधर थूके , और कोई कोई
उधर मूते बस ऐसा ही सब इधर उधर
नजर आता है

अजीब अजीब
इन्ह हरकतों को देख
मेरा तो सिर चकराता है
लोगो की हरकतो को देख
बिल्कुल अजीब सा हो जाता है
देख के लोगो को  खिजिया खिजिया हम गए है 

बिना किसी मतलब के पता नही
लेकिन  बस मूड खराब है
अब इसे क्या कहे की हम
मूड स्विंग जोन मैं आ गए है या
  फिर कुछ बात हो गई है यहाँ
  कुछ समझ नही आता बस
   हम मुह लटकाए ही बैठे है
और ऐसा गंभीर से चेहरा हमने यू बना लिया है
मानो हमारा सब कुछ कोई लूट लिया है
बड़ा अजीब खेल है खेला
ये मूड का भी भाई कोई समझ सकता है क्या ??

कभी सब्जी अच्छी नही बनी
तो मूड खराब हो गया है
कभी कोई बगल मैं से कोई
थूक कर
चला गया तो हो गया जी मूड खराब

किसी ने गाड़ी तेज़ चला ली तो
हो गया जी  मूड खराब

कोई कोने मैं पिसाब करता दिख गया
तो मूड खराब

मुह भर रखा है गुटखे से
तो मूड खराब

रेड लाइट जम्प करली
तो मूड खराब

रेड लाइट के बीच मैं लोग आ गए
तो मूड खराब

चलान कट गया वो हमारी गलती थी
तो भी मूड खराब

समय पर नही पहुँचे बॉस ने डांट लगाई
तो मूड खराब

कपड़े प्रेस के नही
तो मूड खराब

कपड़े प्रेस की हुए हल्की सी सिलबटे भी आ गयी
तो मूड खराब

हल्का चाय मैं मीठा कम या मीठा ज्यादा
तो मूड खराब

बगल मैं से सूंदर स्त्री किसी ओर साथ है
मेरे क्यों नही है यह साथ तो यह सोचकर भी हो जाता है  मूड खराब

में कह रहा हु हर बात पर मूड खराब है क्युको में लाइफ के साथ खुस रहने को कोशिश ही नही कर रहा

और जो यह लोग मूड खराब कर रहे है वो समझ नही रहे है की कही पर कूड़ा मत डालो

च्विंगम खाई और छिलका फेक दिया कचरा छोटा है या बड़ा कचरा तो कचरा है मेरे भाई दुस्तबिन मैं बाद मैं फेक देना लेकिन रॉड पर मत फेको

हर जगह जो तुम गुटखा थूक देते बहित भद्दा लगता है जरा इसे मत थूको
कही पर भी टांग उठा कर मत मूतना शुरू करो मेरे भाई
इतना हॉर्न क्यों बजाते हो क्या सब बहरे है ????

चलो अपना गुस्सा कही निकालते है क्या ऐसा?? किसी ने कुछ कह दिया और तुम अपना गुस्सा कही और उतारने चले गए  क्यों भाई ?

फ़ोन का नेटवर्क नही आया तो बेचैन हो जाते है सभी कंपनीयो को गाली हम देने लग जाते है

जिम्मेदारी कोई उठाना नही चाहता लेकिन हम सब एक दूसरे को जिम्मेदारी का एहसास दिलाना चाहते है बड़ी अजीब बात है

आज पूरे दिन एक वीडियो वायरल हुआ मोती नगर मैं एक कावड़िये को हल्की सी ठोकर लग गयी और उसके बाद सभी कावड़ियों ने मिलकर उस कर को तोड़ दिया अब यह पूरा समझ फेसबुक शेयर और लाइक करने लग गया क्या आपने किसी फिल्मस्टार , क्रिकेटर, बिजनेसमैन जो भी बड़े ओदे पर उन्होंने यह वीडियो शेयर की ? या इस पर कोई प्रतिकिर्या दर्शायी ? नही क्योंकि उन्हें पता है किसमे उलझना चाहिए और किसमे नही आप भीड़ का समर्थन कर रहे है वो भीड़ से अलग है इसलिए आज वो वहां है और हम सब यहाँ पर

हमारा हर छोटी बड़ी बात पर बस मुड खराब होता है और उसकव कोई आकर ठीक करे यह हम चाहते है इसलिए कभी किसी पर गुस्सा निकालते है तो कभी किसी किसी पर हमेसा कंप्लेंट बॉक्स भरे नजर आते है कभी थानों मैं नजर आते है तो कभी कोर्ट मैं यह जो मामले है समझदारी से कभी नही निपटाते क्योंकि अहम बाद है भाई भाई क्यों में बात करू ? क्यों में झुक जाउ ? रिश्तों को खराब होते देखा है लेकिन सुलझ जाए ऐसा होता नही क्योंकि अहम बड़ा मेरे भाई अहम बड़ा
किस किस को समझाऊ में लेकिन खुद कभी ना समझ पाउ
दिन भर की भाग दौड़ से और उसकी व्यस्ताओं से भी हो जाता है मुड़ खराब कितने ही रोज हादसे हो रहे है दिन भर में जो घटनाये घट रही है जो हम पेपर पढ़ रहे है , tv देख रहे है उनसे भी हो जाता है मूड खराब हो जाता है इतनी वीडियो फेसबुक पर और अलग अलग तरह के पोस्ट देखकर भी मूड खराब
हर प्रकार से आजकल तो मूड ही खराब हो रहा है हम जो कुछ चाहते भी नही देखना वो भी हमे देखना पड़ता है।
सड़क पर कीचड़ तो मूड खराब , बा समय पर नही आयी तो मूड खराब कितने ही तरीको से मूड खराब हो रहा है यह क्यों हो रहा है ?
इससे पता चलता है की हमारे अंदर की जो सहनशक्ति वो कम हो रही है और जो सोचने और समझने की क्षमता है वो भी कम हो रही है।

मुड खराब

यह जो मूड है ना खराब हो जाता है
कभी कभी जो यह मूड है

कभी कभी जो यह मूड है खराब हो जाता है
अजी बिल्कुल खराब हो जाता है
जी बिल्कुल
बिल्कुल मन यू मेला कुचैला फिर
काहे खुद को तू संत बताये
चित में इतने गहरे राज छिपाए
कौन कौन कर्म कांड कियो
अब साधुपन दुनिया को दिखलाए 
बिल्कुल खराब हो जाता है
अजी मूड खराब हो जाता है।

सुबह उठते ही जब खुद का चेहरा नजर आता है
बाल उड़े नजर आते है दिमाग बेहाल हो जाता है
अजी मेरा मूड जो है खराब हो जाता है
टॉयलेट जाने का जब नंबर आता है
पानी खत्म हो जाता है

नल में पानी नही आता है
दूर से उठाकर ( धोकर ) लाना पड़ता है
अजी थक जाता हूं
पसीना बहता हूं साला इसलिए
तो मूड मेरा खराब हो जाता है
अजी मुड़ खराब हो जाता है

एक बाल्टी से ही नहाना धोना पड़ता है
अजी मूड खराब हो जाता है
नल का पानी गंदा आता है , वो भी
24 घंटे में सिर्फ 1 घंटे आता है
अजी मूड मेरा तो बस खराब हो जाता है

जैसे तैसा तैयार हो पाता हूं
घर से बाहर मैं निकल पाता हूं
कुछ दूर चलते ही सामने आफत हजार पाता हूं
उनको देखकर फिर मेरा
मूड खराब हो जाता है ,
कोई सिगरेट पिता हुआ
नजर आता है तो कोई गुटखा थूकता हुआ
कोई इधर थूके , और कोई कोई
उधर मूते बस ऐसा ही सब इधर उधर
नजर आता है

अजीब अजीब
इन्ह हरकतों को देख
मेरा तो सिर चकराता है
लोगो की हरकतो को देख
बिल्कुल अजीब सा हो जाता है
देख के लोगो को  खिजिया खिजिया हम गए है 

बिना किसी मतलब के पता नही
लेकिन  बस मूड खराब है
अब इसे क्या कहे की हम
मूड स्विंग जोन मैं आ गए है या
  फिर कुछ बात हो गई है यहाँ
  कुछ समझ नही आता बस
   हम मुह लटकाए ही बैठे है
और ऐसा गंभीर से चेहरा हमने यू बना लिया है
मानो हमारा सब कुछ कोई लूट लिया है
बड़ा अजीब खेल है खेला
ये मूड का भी भाई कोई समझ सकता है क्या ??

कभी सब्जी अच्छी नही बनी
तो मूड खराब हो गया है
कभी कोई बगल मैं से कोई
थूक कर
चला गया तो हो गया जी मूड खराब

किसी ने गाड़ी तेज़ चला ली तो
हो गया जी  मूड खराब

कोई कोने मैं पिसाब करता दिख गया
तो मूड खराब

मुह भर रखा है गुटखे से
तो मूड खराब

रेड लाइट जम्प करली
तो मूड खराब

रेड लाइट के बीच मैं लोग आ गए
तो मूड खराब

चलान कट गया वो हमारी गलती थी
तो भी मूड खराब

समय पर नही पहुँचे बॉस ने डांट लगाई
तो मूड खराब

कपड़े प्रेस के नही
तो मूड खराब

कपड़े प्रेस की हुए हल्की सी सिलबटे भी आ गयी
तो मूड खराब

हल्का चाय मैं मीठा कम या मीठा ज्यादा
तो मूड खराब

बगल मैं से सूंदर स्त्री किसी ओर साथ है
मेरे क्यों नही है यह साथ तो यह सोचकर भी हो जाता है  मूड खराब

में कह रहा हु हर बात पर मूड खराब है क्युको में लाइफ के साथ खुस रहने को कोशिश ही नही कर रहा

और जो यह लोग मूड खराब कर रहे है वो समझ नही रहे है की कही पर कूड़ा मत डालो

च्विंगम खाई और छिलका फेक दिया कचरा छोटा है या बड़ा कचरा तो कचरा है मेरे भाई दुस्तबिन मैं बाद मैं फेक देना लेकिन रॉड पर मत फेको

हर जगह जो तुम गुटखा थूक देते बहित भद्दा लगता है जरा इसे मत थूको
कही पर भी टांग उठा कर मत मूतना शुरू करो मेरे भाई
इतना हॉर्न क्यों बजाते हो क्या सब बहरे है ????

चलो अपना गुस्सा कही निकालते है क्या ऐसा?? किसी ने कुछ कह दिया और तुम अपना गुस्सा कही और उतारने चले गए  क्यों भाई ?

फ़ोन का नेटवर्क नही आया तो बेचैन हो जाते है सभी कंपनीयो को गाली हम देने लग जाते है

जिम्मेदारी कोई उठाना नही चाहता लेकिन हम सब एक दूसरे को जिम्मेदारी का एहसास दिलाना चाहते है बड़ी अजीब बात है

आज पूरे दिन एक वीडियो वायरल हुआ मोती नगर मैं एक कावड़िये को हल्की सी ठोकर लग गयी और उसके बाद सभी कावड़ियों ने मिलकर उस कर को तोड़ दिया अब यह पूरा समझ फेसबुक शेयर और लाइक करने लग गया क्या आपने किसी फिल्मस्टार , क्रिकेटर, बिजनेसमैन जो भी बड़े ओदे पर उन्होंने यह वीडियो शेयर की ? या इस पर कोई प्रतिकिर्या दर्शायी ? नही क्योंकि उन्हें पता है किसमे उलझना चाहिए और किसमे नही आप भीड़ का समर्थन कर रहे है वो भीड़ से अलग है इसलिए आज वो वहां है और हम सब यहाँ पर

हमारा हर छोटी बड़ी बात पर बस मुड खराब होता है और उसकव कोई आकर ठीक करे यह हम चाहते है इसलिए कभी किसी पर गुस्सा निकालते है तो कभी किसी किसी पर हमेसा कंप्लेंट बॉक्स भरे नजर आते है कभी थानों मैं नजर आते है तो कभी कोर्ट मैं यह जो मामले है समझदारी से कभी नही निपटाते क्योंकि अहम बाद है भाई भाई क्यों में बात करू ? क्यों में झुक जाउ ? रिश्तों को खराब होते देखा है लेकिन सुलझ जाए ऐसा होता नही क्योंकि अहम बड़ा मेरे भाई अहम बड़ा
किस किस को समझाऊ में लेकिन खुद कभी ना समझ पाउ
दिन भर की भाग दौड़ से और उसकी व्यस्ताओं से भी हो जाता है मुड़ खराब कितने ही रोज हादसे हो रहे है दिन भर में जो घटनाये घट रही है जो हम पेपर पढ़ रहे है , tv देख रहे है उनसे भी हो जाता है मूड खराब हो जाता है इतनी वीडियो फेसबुक पर और अलग अलग तरह के पोस्ट देखकर भी मूड खराब
हर प्रकार से आजकल तो मूड ही खराब हो रहा है हम जो कुछ चाहते भी नही देखना वो भी हमे देखना पड़ता है।
सड़क पर कीचड़ तो मूड खराब , बा समय पर नही आयी तो मूड खराब कितने ही तरीको से मूड खराब हो रहा है यह क्यों हो रहा है ?
इससे पता चलता है की हमारे अंदर की जो सहनशक्ति वो कम हो रही है और जो सोचने और समझने की क्षमता है वो भी कम हो रही है।

शब्द जो चोटिल करदे

बस ऐसे ही बड़े अच्छे मूड में बैठा हुआ था मैं अपनी दुकान पर मेरी किताबो की दुकान है जिस पर पर बहुत सारे छोटे बच्चे आते है ओर बहुत लडकिया व लड़के जो आते है दुकान है
उस दिन शाम को एक लड़की आई अपनी मम्मी के साथ  जो लगातार आती रहती है मेरी दुकान पर उस दिन उसने मुझसे एक किताब के बारे में पूछा की भैया वो हिंदी की  आरोह , वितान 11वी क्लास की  किताब आयी है क्या ?
मेने जरा रुक कहाँ क्योंकि वह किताबे पहले भी 2 बार वो पूछ चुके थे ओर मेरे पास नही थी तब भी ओर आज फिर मेने कहाँ "नही यार" 
जैसे ही मेने उसे नही यार कहाँ उसने फटाक से उत्तर दिया भैया 'यार' मत बोला करो बहन बोल लिया करो।
(उस समय उसकी मम्मी भी साथ में थी तो यह एक सोचने वाली बात है की उस छोटी लड़की ने यह बात बोली होगी तो मुझे कितना अजीब लगा होगा )
मुझे एकदम से इतना अजीब लगा की मैं बिल्कुल चुप हो गया ओर अब जैसे मेरे पास कुछ शब्द ना थे मेने अपनी गर्दन हिलाकर उसे आरम से कह दिया ठीक है।
बात अगर देखी जाए तो बात तो कुछ भी नही है क्योंकि आजकल हम सभी या ज्यादातर लोग पापा यार, भाई यार , बहन यार , मम्मी यार , कहकर ही बोलते है वैसे भी यह आदत मुझे धीरे धीरे यही से लगी है क्योंकि ज्यादातर बच्चे मुझे भैया यार कहकर ही बोलते है
लेकिन उस दिन मुझे अपने आप से घृणा आ रही थी क्योंकि मेरे मन में उसके लिए कोई ऐसा भाव नही था कोई ग़लत ओर असभ्य भाषा का प्रयोग नहीं करता  जिससे उसको आहत हो या मैं किसी को उन नजरो से नही देखता , या अपशब्द बोलता परंतु उस छोटी लड़की के कहे वो दो शब्द मुझे बहुत चुभ गए जिसका दर्द नही जा रहा है अब मैं पिछले 3 दिनों से किसी बात कर रहा हु तो ऐसे लग रहा है की कोई फिर से मुझे ऐसा कोई  न कहदे , कोई मेरे बारे में गलत ना सोचले क्योंकि वो शब्द मेरे कानो में  बार बार गूंज रहे है।
मुझे डर लगता है ऐसे विचारों से जो मेरे बारे में गलत अवधारणा रख ले बिना मुझे जाने पहचाने।
यह भी ठीक है की मुझे इस प्रकार के शब्द प्रयोग में नही लाने चाहिए क्योंकि मैं उम्र के लिहाज से बड़ा हु यदि मैं ही इन सब शब्दो का प्रयोग करूंगा तो आगे आने वाली पीढ़ी किस तरह की होगी ?


"यार" कभी कभी बात कुछ भी नही होती और शब्द के मायने , मतलब भी कुछ नही होते लेकिन वो भीतर तक चुभ जाते है बार बार यही एहसास दिलाते है कि यह होना था ऐसा कुछ सोच भी ना था। ना ही ऐसा मेरा कहने का तातपर्य था, किसी को आहत करने के लिए भी उस शब्द का प्रयोग नही किया जा रहा था परंतु फिर भी ना जाने वो शब्द कैसे किसी को चोटिल कर देता है जिसकी वजह से आप भी बहुत अजीब , घृणित  महसूस करते हो खुद से,
वो शब्द नासूर बनकर आपको तकलीफ देते है आप इग्नोर करने की भी कोशिश करते हो परंतु यह शब्द है जिनका बार बार प्रयोग होता है और आप बार बार आहित होते हो।

विषय में रुचि सबकी अलग अलग

सबकी अपनी अलग अलग तरह की रूचि होती है और अलग अलग विषयो में परंतु यह जरुरी नहीं है कि हम सभी को जीवन में हमारी रूचि के अनुसार ही कार्य मिले और जिस विषय में हमारी है उसमें हमे सफलता मिले इसलिए हम जो भी कार्य करते है उसे ओर उत्साह से करे यही एक बेहतर विकल्प है बहुत सारे छात्रों की रूचि गणित में होती है परंतु उससे ज्यादा छात्रों को गणित समझ में ही नहीं आती और कुछ छात्र गणित में रूचि तो रखते है परंतु उसमे सफल नहीं हो पाते। बहुत सारे छात्र यह निर्णय लेते है 10वीं कक्षा के बाद #Science के विषय लेंगे परंतु उतने अंक ही नहीं प्राप्त कर पाते की वो विज्ञानं ले पाए या फिर उन्हें ये लगने लगता कि क्या आगे वो कर पाएंगे या नहीं ? क्योंकि जरुरी नहीं है आपको विज्ञानं के सभी विषय पसंद हो 
उसमे #physics #chemistry #biology होती है जरुरी नहीं है आपको यह तीनों विषय पसंद हो समय के साथ साथ आपको अपनी रुचियों के बारे में पता लगता है फिर आप उसी और अग्रसर होते है क्योंकि जरुरी नहीं है जिसमे आपकी रुचि आज है उसीमे आपकी रुचि कल भी हो।
हमारे जीवन में हर पड़ाव पर बहुत सारे ऐसे कार्य सामने आते है  जो हमे अपनी रूचि के अनुसार नहीं मिलते लेकिन हमें वो सभी कार्यो को करना हमारे जीवन की आवश्यकता में आ जाते है चाहे हम उस कार्य को करना चाहते है अथवा नहीं परंतु कार्य तो करना ही होता है क्यों ना  हम उन सभी कार्यो को #उत्साह पूर्वक  करे 
 जिस तरह से हम पुस्तक पढ़ते है अथवा जो बिषय हमारी पसंद का नहीं है फिर भी हमे उस विषय को भी पढ़ना पड़ता है क्योंकि हमें परीक्षा में सफल होना होता है, हम में से ज्यादातर छात्रों को #सामाजिक विज्ञान पढ़ने में अरुचि होती है लेकिन हमें परीक्षा में सफल होने के लिए वो विषय पढ़ना अनिवार्य होता है जबकि सामाजिक विज्ञान ही सबसे महत्वपूर्ण विषय निकल कर बाहर आता है जब आप #IAS #IS आदि की #परीक्षाओ की तैयारी करते है तो सबसे ज्यादा आपको सामाजिक अध्यन आदि के विषयों में ही सबसे अधिक जानकारी लेनी होती है चाहे वो विषय हमे पसंद था या नहीं परंतु जानकारी लेने के लिए उस विषय में हमे रूचि बनानी पढ़ी तथा उत्साह से के साथ पढ़ना भी पढ़ा 


इसलिए सफल व्यक्तित्व के लिए हमे सभी कार्यो को उत्साह के साथ करना चाहिए किसी भी कार्य को करते समय हमको #बोरियत ना महसूस हो पूर्ण #ध्यान और समग्र एकाग्रता के साथ हमे अपने कार्य को लगातार करना चाहिए तथा उस कार्य में जब तक सफलता ना प्राप्त करले तब तक हमे उस कार्य को  करना चाहिए क्योंकि वही कार्य आपको आपकी #मंजिल की और ले जाने में सहायक है 


फिर हमें परीक्षा हेतु के लिए पढ़ने होते है ताकि हम परीक्षा में सफल हो सके यदि हम वही विषय उत्साह से पढ़े तो हम सफल तो होंगे ही अपितु उस #विषय में अच्छे #अंक भी प्राप्त कर पाएंगे
या फिर एक ही काम को बार बार करते हुए हम बोर हो जाते है परंतु वो कार्य करना हमारी मज़बूरी होता है यदि हम वही कार्य रूचि के साथ करे तो हम उस कार्य को अच्छे ढंगसे तथा अच्छे परिणाम की स्तिथि तक करते है